Search
Close this search box.

सार्वजनिक शौचालय साबित हो रहा है सफेद हाथी

भोगनीपुर कानपुर देहात l मलासा ब्लाक के प्रहलाद पुर गांव में बना सार्वजनिक शौचालय में ताला लगा होने व सफाई कर्मचारी की तैनाती ना होने के कारण उपयोग नहीं हो पा रहा है । ग्रामीण गांव के बाहर रास्ते वा खडंजा में सौच को जाने को मजबूर हैं । ज्ञात हो कि मला सा के गुरगांव गांव का मजरा प्रहलादपुर इसकी आबादी लगभग 22 सौ है ।गांव में लगभग 60% घरों में शौचालय बन गए हैं लेकिन फिर भी 40%घरों मे गांव में अभी भी शौचालय नहीं बन पाए हैं । लाभार्थियों का नाम या तो सूची में नहीं है या तो बैंक में खाते ही नहीं है । जिस कारण 40% घरों के लोग अभी भी गांव के बाहर कच्चे रास्ते व सडक में सौच को जाने को मजबूर है । जिससे गंदगी फैल रही है । लगभग 1 वर्ष पूर्व ब्लॉक मुख्यालय द्वारा प्रहलाद पुर गांव में चौराहे के पास 20 से 25 लाख रुपए लगाकर स्वच्छ शौचालय का निर्माण कराया गया था । जहां पुरुष व महिला शौचालय अलग-अलग है । तथा पानी की टंकी भी रखवाई गई थी शौचालय को बने 1 वर्ष हो गए तब से शौचालय में ताला लटक रहा है । ना तो पानी की व्यवस्था है और ना ही कोई सफाई कर्मचारी की ड्यूटी लगाई गई है । गांव की महिलाएं व पुरुष खुले में शौच जाने को मजबूर है । कई बार ग्रामीणों ने एडीओ पंचायत से शिकायत भी की लेकिन अभी तक समस्या का समाधान नहीं हुआ है स्वच्छ शौचालय में ताले लटके होने के कारण आसपास गंदगी वा घास तक जम गई है व शौचालय के ऊपर रखी पानी की टंकी टूट कर गायब हो गई है ।

Also Read It

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You May Like It

लाइव मैच

शेयर बाजार

Scroll to Top