Search
Close this search box.

निर्वाचक नियमावलियों के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम के तहत जिलाधिकारी ने जिले के विभिन्न बूथ केन्द्रों का किया निरीक्षण

बलिया। जिलाधिकारी रविंद्र कुमार रविवार को भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार 1 जनवरी 2024 के आधार पर विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र की निर्वाचक नामावलियों के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम के तहत बने जिले के विभिन्न बूथ केन्द्रों का निरीक्षण किया। वहां पर उन्होंने बूथ केन्द्रों की संख्या, तैनात बीएलओ की संख्या, मतदाता सूची, कितने फार्म- 6,7,8 प्राप्त हुए, जेंडर रेशियो और बीएलओ के मूल पद की जानकारी ली।

जिलाधिकारी सर्वप्रथम उच्च प्राथमिक विद्यालय भृगु आश्रम पहुंचे। यहां पर सात बूथ और सात बीएलओ तैनात थे। एक बीएलओ (आंगनवाड़ी) के स्थान पर उनकी लड़की की ड्यूटी पाये जाने पर उनसे स्पष्टीकरण मांगा गया। यहां पर उन्होंने फॉर्म छह के अंतर्गत कितने महिला और पुरुषों के आवेदन और जेंडर रेशियों के बारे में जानकारी ली। इसके बाद जिलाधिकारी ग्राम पंचायत जलालपुर के आंगनबाड़ी केंद्र और बहुउद्देशीय पंचायत भवन पहुंचकर वहां के बीएलओ को जरूरी दिशा निर्देश दिया। यहां पर एक-एक बूथ और एक-एक बीएलओ तैनात थे। तत्पश्चात जिलाधिकारी उच्च प्राथमिक विद्यालय फेफना शिक्षा, क्षेत्र गडवार पहुंचे,तो पाया कि दो आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों के स्थान पर उनके पति ड्यूटी कर रहे थे और एक बीएलओ की लापरवाही पर उन्होंने तत्काल संज्ञान लेते हुए एईआर‌ओ को तीन बीएलओ के खिलाफ विभागीय कार्रवाई करने के निर्देश दिए। यहां कुल 4 बीएलओ तैनात थे। अधिकतर बूथ केन्द्रों के बीएलओ को जेंडर रेशियों के बारे में जानकारी नहीं थी, जिस पर जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी आत्रेय मिश्र को निर्देश दिया कि इनकी ट्रेनिंग शीघ्र करवाकर निर्वाचन संबंधित सभी जानकारियों से अवगत कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने उप जिलाधिकारी को भी चेतावनी दी कि आगे से बूथ केन्द्रों पर ऐसी शिकायत नहीं मिलनी चाहिए, नहीं तो कड़ी कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी।

Also Read It

You May Like It

लाइव मैच

शेयर बाजार