Search
Close this search box.

राम जन्मभूमि आंदोलन के सूत्रधार परम पूज्य शंकराचार्यों को किनारे करने वाले उपदेश न दें – रामगोविंद चौधरी ।

रिपोर्ट —सुधीर कुमार मिश्र
बलिया।बेरुआरबारी।17 सितम्बर 2023, को प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा बीना मध्य प्रदेश के एक जनसभा में भाषण के दौरान विपक्षी गठबंधन पर  सनातन संस्कृति को खत्म करने के आरोप लगाया गया जिसपर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव और उत्तर प्रदेश के पूर्व नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी ने सोमवार को एक बयान जारी कर भाजपा को आड़े हाथों लेते  कहा कि यहां सनातन धर्म की बात की जा रही है। भारत सनातन धर्म का देश है सनातन धर्म क्या कहता है। ये हमें समझा रहे है जो स्वंय धर्म के मर्म को जानकर भी झूठ  फैला रहे है। भाजपा का लक्ष्य है देश की जनता का ध्यान मोड़ कर धन और वोट हासिल करना मात्र। राम जन्मभूमि आंदोलन के सूत्रधार परम पूज्य शंकराचार्यों को किनारे करने बाले उपदेश न दें। सनातन धर्म हम सबका है हम इन्हें धर्म का ठेकेदार नहीं बनने देगें। सनातन संस्कृति की परम्परा में अर्ध कुम्भ को कुम्भ कहने वालो ने जिस तरह  रामजन्मभूमि ट्रस्ट  में परम पूज्य शंकराचार्याे को शामिल न कर  देश विदेश के करोड़ों सनातन धर्म प्रेमीयो के अपमान पर भाजपा को जनता अब सबक जरूर सिखायेगी।  श्री  चौधरी ने   कहा कि  भाजपा एक ही खेल खेल रही है कि कैसे जनता का ध्यान मूल समस्याओ से मोड़ा जाए। कैसे देश में धार्मिक विवाद हो, ताकि असली बातों से घ्यान हट जाएं।  मैनपुरी लोकसभा और घोसी विधानसभा उप चुनाव परिणाम के बाद भाजपा हताशा और निराशा में है वह समझ गयी है कि 2024 के चुनाव के चुनाव में जनता जुमालेबाजी को नकार देगी। प्रधान मंत्री का वादा 15 लाख का नहीं मिला जनता को आधा। देश में भाजपा का मूल चेहरा उजागर हो गया है। मप्र में जिस प्रकार  शिवराज भाजपा,महाराज  भाजपा, और नाराज भाजपा बन गयी है वही स्थिति दिल्ली में भी है।राष्ट्रवाद और सेना के मुद्दे इनके लिए मात्र बोट के लिए  बनावटी, दिखावटी ,मिलावटी और सजावटी है। देश और प्रदेश में  प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी के  प्रति व्यापक जन आक्रोश है।

Also Read It

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You May Like It

लाइव मैच

शेयर बाजार

Scroll to Top